लॉन्ग टर्म इनवेस्टर को मालामाल बनाएगा ये मिडकैप फंड

Invesco Mid Cap Fund IMCF : मार्च 2022 से अब तक इन्वेस्को मिड कैप फंड का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा है। हालांकि, IMCF का लॉन्ग टर्म में प्रदर्शन अच्छा रहा है। 

फंड मैनेजर प्रणव गोखले ने पोर्टफोलियो में सुधार के लिए कई कदम उठाए हैं।

पिछले एक साल से शेयर पर दबाव बना हुआ है। एक साल में शेयर 26 फीसदी टूट चुका है।  

यह योजना MC30 का एक हिस्सा है, जो मनीकंट्रोल की 30 निवेश योग्य म्यूचुअल फंड योजनाओं की टोकरी है।

IMCF ने अपने फंड का कम से कम 65 फीसदी मिडकैप शेयरों में निवेश किया है।

बाकी लार्ज और स्मालकैप स्टॉक्स में निवेश किया है। 

यह योजना अधिक जोखिम लेने के इच्छुक निवेशकों के अनुकूल एक उच्च जोखिम और उच्च रिटर्न निवेश रणनीति का अनुसरण करती है।

प्रणव गोखले मार्च 2018 से इस योजना का प्रबंधन कर रहे हैं।

10 साल के रिटर्न के आधार पर ICMF ने 18 फीसदी CAGR रेट दिया है जबकि S&P BSE 150 मिडकैप- TRI (टोटल रिटर्न इंडेक्स) में 15 फीसदी की तेजी आई है।

ICMF ने पिछले तीन साल में 22.4 फीसदी, पांच साल में 14.5 फीसदी की सीएजीआर दर से रिटर्न दिया है।

फंड मैनेजर गोखले कहते हैं, “हम ऐसे मिडकैप्स में निवेश करते हैं, जिनमें कल लार्जकैप बनने की संभावनाएं होती हैं। हम ग्रोथ पर केंद्रित कंपनियों पर दांव लगाते, जिनका रिटर्न रेश्यो और कैश फ्लो वाजिब हो।”

ज्यादा रिस्क उठाने की क्षमता रखने वाले इनवेस्टर्स IMCF को पांच साल या ज्यादा अवधि के लिए अपने पोर्टफोलियो में शामिल कर सकते हैं।

अगर आप चाहे तो आप हमारी होम पेज पर दी जा सकती हो | नीचे देख पर क्लिक करें अच्छा-अच्छा कांटेक्ट मिलेगा | नहीं तो आगे बढ़ते रहें