कच्चे तेल में उबाल में डॉलर के मुकाबले रुपया पार कर सकता है 83 का लेवल

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों, ब्याज दरों पर यूएस फेड के सख्त रुख और कमजोर आर्थिक गतिविधियों के चलते भारतीय रुपया अक्टूबर के अंत तक डॉलर के मुकाबले 83 रुपये के स्तर को भी पार कर सकता है।

07 अक्टूबर को रुपया डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड निचले स्तर पर बंद हुआ और 82 रुपये प्रति डॉलर के नीचे बंद हुआ.

अगले आने वाले हफ्तों में डॉलर के मुकाबले 83 का स्तर छुता नजर आ सकता है 

बता दें कि कल के कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया 82.19 के स्तर पर खुला था और उसके बाद इसमें 82.4275 ऑल टाइम लो देखने को मिला था। 

 ब्याज दरों पर सभी बड़ी और उभरती इकोनॉमिक्स की कड़ाई और बॉन्ड यील्ड में बढ़ोतरी कुछ ऐसे कारण है जिनके चलते डॉलर इंडेक्स में तेजी आएगी और रुपये सहित दूसरे उभरते बाजारों सहित करेंसी पर प्रभाव देखने को मिलेगा। 

इस बीच कच्चे तेल पर नजर डालें तो ओपेक प्लस देशों की तरफ से उत्पादन में कटौती के ऐलान से कच्चे तेल की कीमतों में लगातार तेजी देखने को मिल रही है जिसके कारण रुपये पर दबाव बढ़ा है। 

अगर आप चाहे तो आप हमारी होम पेज पर दी जा सकती हो | नीचे देख पर क्लिक करें अच्छा-अच्छा कांटेक्ट मिलेगा | नहीं तो आगे बढ़ते रहें