निफ्टी ने बनाया बियरिश कैंडल, अब और तेजी के लिए निफ्टी को पार करनी होगी 17350 की बाधा

14 अक्टूबर को निफ्टी 50 ने शुरुआती कारोबार में दमदार ग्रोथ दिखाई और यह 17300 के पार जाते हुए देखा गया।

लेकिन कारोबारी सत्र के आखिरी घंटों में बिकवाली के चलते निफ्टी ऊपर से फिसलता हुआ नजर आया और कारोबार के अंत में दिन के उच्च स्तर से नीचे बंद हुआ.

वैश्विक बाजार में राहत की एक रैली और आईटी कंपनियों द्वारा नतीजों के मौसम की अच्छी शुरुआत, बैंकिंग, वित्तीय सेवाओं, आईटी और फार्मा शेयरों में वापसी से बाजार की धारणा को अच्छा बढ़ावा मिला।

कल के कारोबार में सूचकांक शुरुआती स्तर से नीचे बंद हुआ। ऐसे में इसने दैनिक चार्ट पर एक मंदी की मोमबत्ती का गठन किया, जो इस बात का संकेत है कि बाजार में कुछ और समय के लिए अस्थिरता देखी जा सकती है।

साप्ताहिक चार्ट पर, हमने एक उच्च वेब जैसा पैटर्न देखा और निफ्टी पिछले कारोबारी सप्ताह की सीमा में 0.70 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुआ।

शुक्रवार को आई इस तेजी की वजह से इनवेस्टर्स की संपत्ति करीब 4 लाख करोड़ रुपये बढ़ गई। 

नीचे की तरफ निफ्टी के लिए 17000 पर पहला सपोर्ट है। इसके बाद 16800 पर दूसरा सपोर्ट है। 

शुक्रवार को ब्रॉडर मार्केट में हमें निराशाजनक स्थित देखने को मिली थी। 

निफ्टी मिडकैप और स्मॉलकैप लगभग सपाट बंद हुए. जबकि बाजार की चौड़ाई काफी हद तक सपाट रही।

एनएसई पर हमें 944 बढ़ने वाले शेयरों पर 997 गिरने वाले शेयर देखने को मिले। 

Read More Storis