Vedanta की इस सब्सिडियरी ने दिया छप्परफाड़ रिटर्न

देश की सबसे बड़ी और दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी जिंक-लीड माइनिंग कंपनी हिंदुस्तान जिंक निवेशकों के लिए मल्टीबैगर साबित हुई है।

Vedanta की सहायक कंपनी Hindustan Zinc का शेयर आज बीएसई पर 280.60 रुपये पर बंद हुआ।

20 साल में 58 हजार के निवेश पर बनाया करोड़पति

Hindustan Zinc के शेयर 18 अक्टूबर 2002 को 1.62 रुपये के भाव पर थे, जो 20 साल में 173 गुना बढ़कर 280.60 रुपये हो गए हैं।

यानी अगर उस समय इसमें 58 हजार रुपये का निवेश किया गया होता तो अब तक यह एक करोड़ रुपये से ज्यादा की पूंजी बन चुका होता।

पिछले साल 18 अक्टूबर 2021 को हिंदुस्तान जिंक के शेयर 52 सप्ताह के रिकॉर्ड उच्च स्तर 407.90 रुपये पर थे, यानी इसके शेयर फिलहाल 45 फीसदी की छूट पर हैं.

पिछले साल अक्टूबर में उच्च स्तर पर पहुंचने के बाद, इसके शेयरों ने बिकवाली का दबाव दिखाया और इस साल, 6 जुलाई, 2022 तक, लगभग 41 प्रतिशत गिरकर 242.40 रुपये हो गया, जो 52 सप्ताह का रिकॉर्ड निचला स्तर है।

हालांकि इसके बाद खरीदारी का रुझान बढ़ा और अब तक इसमें 16 फीसदी का उछाल आया है।

Read More Post