मार्केट गुरु सौरभ मुखर्जी से जानिए कितनी मजबूत है भारत की ग्रोथ स्टोरी, किन सेक्टर्स में होगा पैसा आगे?

मार्केट गुरु सीरीज में आज हमारे अतिथि मार्सेलस इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स के सह-संस्थापक सौरभ मुखर्जी हैं। सौरभ प्रसिद्ध निवेश दर्शन के प्रशंसक हैं कॉफी निवेश कर सकते हैं।

वे लगातार अच्छी ग्रोथ वाली कंपनियों में लंबे समय तक निवेश करते हैं। आज हम सौरभ से यह जानने की कोशिश करेंगे कि चुनौतीपूर्ण माहौल में अच्छी कंपनियों का प्रबंधन किस रणनीति पर काम करता है।

साथ ही अच्छी कंपनियों की पहचान कैसे करें। हम यह भी जानने की कोशिश करेंगे कि क्या सौरभ मुखर्जी कुछ नई कंपनियों में भी मौके देख रहे हैं?

बता दें कि सौरभ मुखर्जी ने अपना खुद का पीएमएस मार्सेलस का सीसीपी भी शुरू किया है। इसके प्रदर्शन पर नजर डालें तो मार्सेलस के सीसीपी ने 31 अगस्त 2022 तक 1 महीने में 4.79 फीसदी का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में निफ्टी ने 3.72 फीसदी का रिटर्न दिया है.

6 महीनें में Marcellus' CCP ने 5.18 फीसदी रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में निफ्टी ने 6.76 फीसदी रिटर्न दिया है। 1 साल में Marcellus' CCP ने 1.54 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में निफ्टी ने 5.14 फीसदी पॉजिटिव रिटर्न दिया है।  

3 साल में Marcellus' CCP ने 22.28 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में निफ्टी ने 18.63 फीसदी पॉजिटिव रिटर्न दिया है। अपने शुरुआत से अब तक Marcellus' CCP ने 20.83 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में निफ्टी ने 15.41 फीसदी पॉजिटिव रिटर्न दिया है। 

सौरभ मुखर्जी ने अपना बाजार मंत्र बताते हुए कहा कि बाजार में पैसा बनाने के लिए लंबे नजरिए से निवेश करें। 1-1.5 साल की अवधि निवेश में ज्यादा मायने नहीं रखती है।

अच्छे रिटर्न के लिए कम से कम 3 साल के नजरिए से निवेश करें। चाहे वह व्यक्तिगत निवेश हो या किसी फंड का प्रदर्शन, 3 साल से कम की निवेश अवधि का कोई खास कारण नहीं है।

अगर हम वॉरेन बफेट का उदाहरण लेते हैं, तो लगभग 50 प्रतिशत मामलों में, उन्होंने 1 महीने के क्षितिज में एसएंडपी 500 इंडेक्स को अंडरपरफॉर्म किया है।

वहीं, अगर 3 साल का टाइम हॉरीजोन लें तो वॉरेन बफे ने 80 फीसदी मामलों में S&P 500 इंडेक्स की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है। 

Read More Stories