Stock Exchange Meaning in Hindi 2022 – स्टॉक एक्सचेंज का कार्य,लाभ क्या है

Share This Post

हेलो दोस्तो आज के पोस्ट में हम लोग बात करने वाले stock exchange meaning in hindi | स्टॉक एक्सचेंज क्या होते हैं ,स्टॉक एक्सचेंज का कार्य क्या क्या होते हैं इसका लाभ क्या है और इसका स्थापना क्यों की गई थी सारे सवाल के जवाब आप इस पोस्ट में देखने वाले हैं तो इस पोस्ट को आगे तक देखते रहे और लास्ट में अब का मूल्य बान कमेंट भी आप नीचे कमेंट कर सकते हैं ।
मेरा नाम सुजन दास है और बीयर पीते 5 सालों से स्टॉक मार्केट के बारे में अच्छा खासा नॉलेज गेंद कर चुका हूं उसी के वेबपेज आज की पोस्ट स्टॉक एक्सचेंज क्या होती है बनाया गया है मुझे उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट अच्छी लगेगी और आपका जो डाउट है वह सारा सब कुछ क्लियर हो जाएगा इसी पोस्ट में । तो चलिए शुरू करते हैं आज का टॉपिक ।

स्टॉक मार्केट क्या होता है

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज, स्टॉक एक्सचेंज क्या होता है, स्टॉक एक्सचेंज के कार्य, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज क्या है, स्टॉक एक्सचेंज के लाभ, विश्व का सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की स्थापना, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के कार्य, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज इन हिंदी,
स्टॉक एक्सचेंज क्या होता है

तो दोस्तों पहले शॉर्ट में समझ लेते स्टॉक मार्केट क्या होता है स्टॉक मार्केट एक बाजार है जहां पर लिस्टेड पब्लिक कंपनी के शेयर खरीदा और बेचा जा सकते हैं । जिस तरह से आप फर्नीचर खरीदने के लिए फर्नीचर की मार्केट में जाते हैं , सब्जी खरीदने के लिए सब्जी के मार्केट जाते हैं उसी तरह से लिस्टेड पब्लिक कंपनी के स्टॉक्स को खरीदने के लिए आप स्टॉक मार्केट जाते हो ।

चलिए अब हम लोग बात कर लेते स्टॉक एक्सचेंज क्या होती है ।

स्टॉक एक्सचेंज क्या होता है

अगर सपोर्ट किसी फर्नीचर मार्केट में आग जाते हो तो क्या ऐसा होगा कि वहां पर सिर्फ एक के फर्नीचर की दुकान मिलेगा । नहीं ना अगर आप बाजार जा रहे हैं तो वह पेड़ छोटे-छोटे कई सारे दुकान देखने को मिल जाती है । अगर आप सब्जी मंडी खरीदने के लिए सब्जी मार्केट जाते हो तो वहीं पर भी बहुत सारा दुकान आपको देखने को मिल जाता है । उसी तरह से स्टॉक मार्केट में भी कई तरह से अलग-अलग Shops होती है जहां से आपकी स्टॉक्स खरीद सकते हैं । और इस Shops को स्टॉक एक्सचेंज बोला जाता है ।

स्टॉक एक्सचेंज मतलब जाफर स्टॉक का एक्सचेंज होता है । किसी ने खरीदा तो किसी ने बेचा किसी ने बेचा तो किसी ने खरीदा ऐसा चलता ही रहता है ।
इंडिया में सबसे बड़ा दो ऐसे स्टॉक एक्सचेंज है जहां पर ज्यादा खरीदा और बेचा जाता है । ऐसा तो बहुत सारे स्टॉक एक्सचेंज हमारे भारत के अंदर मौजूद है लेकिन मंडली दो स्टॉक एक्सचेंज किस ज्यादा उपयोग किया जाता है जिसका नाम है पहला है बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज(bse) . और दूसरा है नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (nse )

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में कितना कंपनी लिस्टेड है ?

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लगभग 5000 से भी ज्यादा कंपनी लिस्टेड है इसका मेन कारण है यह कंपनी सबसे पुराना है और पुराना होने के बावजूद इसमें बहुत सारा पुराना कंपनी भी आ जाती है ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में कितना कंपनी लिस्टेड है ?

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में लगभग 2000 कंपनी लिस्ट ।

कई सारी कंपनियां सभी है जिसमें एनएससी और बीएससी दोनों में ही लिस्ट है । जैसे कि Reliance industry, pidilite, Asian paint ,HDFC Bank, TCS ,Infosys jasa bohat sata company । यह सारी कंपनी इन एसी और बीएससी दोनों में लिस्टेड है इसलिए आप किसी में भी इस कंपनी को खरीद सकते हैं ।

अब आपके मन में एक सवाल आ जाती है कि अगर सपोज कोई कंपनी रिलायंस इंडस्ट्री दोनों में लिस्टेड है । क्या कभी ऐसा होता है कि बीएससी में ज्यादा महंगा है और एनएससी में सस्ता है और इसका उल्टा भी एससी में सस्ता और एनएससी में महंगा हो सकता है कि नहीं ।

तो इसके बारे में और डिटेल्स में समझाने के लिए मैं फिर से ले चल तो आपको फर्नीचर मार्केट की एग्जांपल पर । सपोज मान लीजिए आपको कोई एक पार्टी कूलर चेयर पसंद आ गई । मान लीजिए और चेयर चार से पांच दुकानों में से मिलता है । क्या कभी किसी दुकानदार ने वही चेयर ₹500 में भी देता है और वही शेयर दूसरे दुकानदार ने 5000 केवी बिकता है । नहीं ना तो प्राइस एक्चुअली सेम यानी बराबर के आसपास ही होना चाहिए नहीं तो जो दुकानदार ज्यादा चार्ज कर रहा है उसका दुकान नहीं चलेगा । हां कोई शॉपकीपर आपको ₹200 कम में दे देगा ₹200 ज्यादा में दे देगा लेकिन इतना ज्यादा फर्क नहीं होगा किसी भी दुकानदारों के बीच । एक्जेक्टली इसी तरह से ही इस स्टॉक एक्सचेंज में भी शेयर का दाम एक जैसा ही डिसाइड किया जाता है । आप दोनों में से कहीं से भी आप स्टॉक खरीद सकते हैं ।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज(bse) की स्थापना कब और कहां हुई थी ?

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज भारत और एशिया का सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज है। इसकी स्थापना 1875 साल मुंबई में हुई थी। इस एक्सचेंज की पहुंच 417 शहरों तक है। मुंबई स्टॉक एक्सचेंज भारतीय शेयर बाज़ार के दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंजों में से एक है।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज कब और क्यों बनाया गया था ?

और दूसरा है नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (nse ) 1992 साल में हर्षद मेहता स्कैम के बाद बनाया गया था । ताकि भारत के सभी स्टॉप की मैनू प्लस उनको अच्छे से कंट्रोल कर सके और इसके ऊपर ज्यादा से ज्यादा कार्रवाई कर सके । इसमें रिटेल इन्वेस्टर ना फंसे ।

इन दोनों एक्सचेंज मुंबई में ही स्थित है और दोनों का ही अलग-अलग वेबसाइट भी बना हुआ है लेकिन लेकिन दोस्तों आपको इसमें डायरेक्ट जाकर शेयर बाय सेल नहीं कर सकते इसके लिए आपको एक brokers की जरूरत पड़ेगा ।

मेरा रिकमेंड आंसर है कि upstox में आपको डिमैट अकाउंट खोलना चाहिए ।
व्यापार अकाउंट खोलने के लिए चार्ज सिर्फ ₹200 लगता है और बकरेज चार्ज नहीं लगता है बोले तो ना के बराबर इसलिए मेरा पसंदीदा वह कर ।
Upstox open Demat account — Click here

Stock exchange meaning in Hindi

चलिए दोस्तों इसको और डिटेल्स में समझ लेते हैं स्टॉक एक्सचेंज के कार्य का मतलब होता है जहां पर आप शेयर डिवेंचर और बॉन्ड खरीद सकते हैं । यहां पर ऑनलाइन भी इन सब चीजों का बाय ओर सेल किया जाता है अभी के टाइम पर इसको ही ज्यादा फैंस देता है पहले के जमाने में या ऑफलाइन भी काम चलता था लेकिन आज की टाइम पर पूरा ऑनलाइन हो चुका है ।

या फिर से security market दोनों हिस्सों में डिवाइड होती है – 1. Primary market
2. Secondary market

पाईमारी मार्केट क्या है ?

प्रायमरी मार्केट के अंदर आ जाती है जब कंपनी अपनी यीशु शेयर यीशु करती है और पहली बार मार्केट में अपना शेयर बेचने और रिटेल इन्वेस्टर से पैसा लेने आता है जिसको initial public offer (ipo ) बोलते हैं ।

सेकेंडरी मार्केट क्या है ?

वहीं पर सेकेंडरी मार्केट स्टॉक एक्सचेंज से लिस्टेड हो जाने के बाद किसी वॉकर के द्वारा रिटेल इन्वेस्टर या दूसरे किसी बायर और सेना के बीच जब आपस में बाई और सेल किया जाता है और उस कंपनी का ट्रेडिंग भी किया जाता है उसी को ही सेकेंडरी मार्केट बोला जाता है ।

स्टॉक एक्सचेंज के कार्य क्या है ?

स्टॉक एक्सचेंज का काम है कि बायर और सेलर को एक ही प्लेटफार्म के अंदर सर्विस देना जो एक कंपनी खुद नहीं कर सकती है इसके लिए कोई थर्ड पार्टी बोकर की जरूरत पड़ती है ।

मैं आशा करता हूं दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट स्टॉक एक्सचेंज क्या होते हैं अच्छा लगा है और इस पोस्ट से जुड़ी और आपके मन में कोई भी सवाल हो तो जरूर नीचे कमेंट कर सकती है इसके अलावा भी आप हमारी दूसरा पोस्ट भी देख सकते हैं आज के लिए बस इतना ही ।


Share This Post

Leave a Comment

x
5 मिनट में बनिए Market Expert, इस तरीके से आप खुद खोजें बेहतरीन शेयर… कमाएं पैसे Inox Green Energy IPO से जुड़ी डिटेल Top 10 trading Share : इन 10 शेयरों में 3-4 हफ्तों में हो सकती है छप्पर फाड़ कमाई सिर्फ 30 दिनों में 10% -18% रिटर्न चाहते हैं, ये शेयर में कड़े इन्वेस्ट Yes Bank के शेयर बन गए मल्टीबैगर, तीन महीनों में दिए 38% रिटर्न अगर आप अगले हफ्ते शेयर बाजार में कमाई करना चाहते हैं, तो इन 10 महत्वपूर्ण कारकों पर नजर रखें भारतीय मार्केट गिरने वाला है ,एक डॉलर का भाव 80.20 रुपये तक जा सकता है Patanjali Group IPO: रामदेव की पतंजलि लाएगी 4 कंपनियों के आईपीओ 2022 में 7 सबसे ज्‍यादा सब्‍सक्राइब होने वाले IPO