शेयर होल्डिंग क्या होता है । share holding ka matlab kya hota hai 2023

शेयर होल्डिंग क्या होता है : – अरे दोस्तों आज की पोस्ट में हम लोग बात करने वाले हैं share holding ka matlab kya hota hai 2023 तो इस पोस्ट को आखिर तक देखते रहे और आपका मूल्यवान कॉमेंट नीचे जरूर करके जाइएगा ।

मेरा नाम सूजन दास है मैं बीते 5 सालों से स्टॉक मार्केट में काम कर रहा हूं और इसके बारे में अच्छे से नॉलेज गेनकार चुका हूं इसी के वजूद पर मैंने आज की पोस्ट आपको भी  रिकमेंड किया हूं । मुझे उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगेगी तो चलिए शुरू करते आज का टॉपिक ।

शेयर होल्डिंग क्या होता है ?

जब हम किसी कंपनी शेयर को खरीदने जा रहा है तो एक निवेशक के तौर पर आपको क्यों यह जानना बेहद जरूरी है उस कंपनी का कितना कितना शेयर किसके पास है । यह सब कुछ पता चलते हैं कंपनी का शेयर होल्डिंग की वजह से । और शेयर होल्डिंग पेटर्न कंपनी का बहुत ही इंपॉर्टेंट रोल प्ले करता है । और इसमें थोड़ा बहुत बदलाव भी शेयर को प्राइस को भी ऊपर नीचे लेकर जाने में एक अहम भूमिका पालन करती है । 

शेयर होल्डिंग क्या होता है, share holding kya hota ha, shareholder kya hota hai, share holding ka matlab kya hota hai, shareholder ka matlab kya hota hai,
शेयर होल्डिंग क्या होता है

चलिए आज की पोस्ट में हम लोग share holding ka matlab kya hota hai इसको डिटेल्स में समझते हैं । और आप कैसे शेयर होल्डिंग पेटर्न को कब और कहा देख सकते हैं यह भी जानने वाले ऐसी पोस्ट में

सबसे बड़ा एग्जांपल ले लेते हैं दोस्तों yes bank का।
अगस्त माह 2018 में इसका शेयर प्राइस लगभग ₹400 के आसपास चल रहा था लेकिन आज की बात करें तो ₹15 के आसपास चल रहा है ।

तो दोस्तों 2018 तक इस बैंक ने तो अच्छा ही परफॉर्म किया है बहुत ही इन्वेस्टर को मल्टीबैगर रिटर्न भी दिया है लेकिन जब से कंपनी में कोई घोटाला हो चुका है और तब कंपनी का promoter सारा शेयर बेच के निकल रहे थे तब शेयर का प्राइस बहुत तेजी से गिर नहीं लगता है  । आज के टाइम पर promoter के पास एक भी शेयर नहीं है सहारा पब्लिक और दूसरे ऑर्डर एफ आई आर डी आई को पकड़कर निकल चुका है ।

उस टाइम पर कंपनी का फाइनेंस शेयर रिपोर्ट को देखते हुए पता नहीं चल रहा था कि शेयर का प्राइस गिरने वाला है । जब शेयर का प्राइस बहुत तेजी से गिर गया तब हमें इसका कारण पता चला तब तक बहुत देर हो चुका है बहुत सारा इन्वेस्टर का बहुत सारा पैसा डूबा कर चला गया ।

जब भी किसी कंपनी का शेयर होल्डिंग पेटर्न देखते हैं तो हमको तब भी मालूम पड़ जाता है कि शेयर किन-किन लोगों के पास कितना कितना है । कौन सा शेयरधारकों के पास ज्यादा है और कौन सा कम है ।
सबसे पहला शेयर होल्डिंग पेटर्न में हम लोग देखते हैं की कितना परसेंट हिस्सा कंपनी के ओनर यानी promoter के पास है । और दूसरी बात कितना परसेंट हिस्सा आम निवेशक माने रिटेल इन्वेस्टर और पब्लिक के पास है ।

और पब्लिक शेयर होल्डिंग मैं भी बहुत सारा इन्वेस्टर शामिल रहते हैं ।
1. Retail investor
2. Institutional investor
      A. DII (घरेलू संस्थागत निवेशक)
      B. FII (विदेशी संस्थागत निवेशक)
संस्थागत निवेशक मैं आ जाता है बैंक इंश्योरेंस एनबीएफसी और बड़े-बड़े म्यूचल फंड कंपनी ।
इसमें रिटेल इन्वेस्टर का कितना हिस्सेदारी है और Institutional इन्वेस्टर का कितना हिस्सेदारी है वह भी आपको देखना पड़ेगा ।
अगर इनमें से किसी भी कंपनी में प्रमोटर होल्डिंग के बाद Institutional इन्वेस्टर का होल्डिंग ज्यादा रहता है तो कोई दिक्कत की बात नहीं है अगर रिटेल इन्वेस्टर का होल्डिंग किसी भी कंपनी में ज्यादा होती है तो खराब भी निशानी देखा जाता है ।

क्योंकि आम निवेशक जल्दी ही हार मान लेते हैं और शेयर थोड़ा सा गिरने से डर के कारन बहुत सारा रिटेल इन्वेस्टर अपना शेयर बीच के निकल जाता है उसी की वजह से शेयर का प्राइस और भी गिर जाता है ।

अगर किसी भी कंपनी के में विदेशी निवेशक होगा हिस्सेदारी ज्यादा रहता है तो एक अच्छा निशा ने भी माना जाता है । क्योंकि विदेशी निवेशक हमेशा लंबी अवधि के लिए ही किसी भी कंपनी में निवेश करते हैं ।

चलिए दोस्तों अब जान लेते हैं शेयर होल्डिंग पेटर्न कैसे देखते हैं ।

शेयर होल्डिंग पेटर्न कैसे चेक करें ?

इसके लिए दोस्तों सबसे पहले आपको Google ओपन कर लेना है ।
उसके बाद आपको टाइप करना होगा इसके screener.in उसके बाद उस वेबसाइट को ओपन करना है और आपको जिस भी कंपनी का शेयर होल्डिंग पेटर्न जानना है वहीं पर राइट साइड के ऊपर सर्च बॉक्स में आपको सर्च करना है ।
मान लीजिए मैंने टीसीएस कंपनी का शेयर होल्डिंग पेटर्न देखना चाहता हूं इसके लिए मैं ऊपर राइट साइड के सर्च बॉक्स में टाइप करता हूं टीसीएस तो आपको देखने को मिल जाएगा टीसीएस में क्लिक करने के बाद आपको सबसे लास्ट में जाना है।
वहीं पर आपको देखने को मिल जाएगा शेयर होल्डिंग पेटर्न अभी के टाइम पर कितना शेयरहोल्डिंग पेटर्न में किन के पास कितना शहर है आपको सब कुछ देखने को मिल जाएगा । 

लेकिन आपको किसी कंपनी का शेयर होल्डिंग पेटर्न देखने के साथ-साथ उस कंपनी का promoter न्यू इस कंपनी का कितना पर्सेंट शेयर गिरवी रखा है अभी आपको देखना पड़ेगा ।
किसके लिए आप ऊपर में शेयर होल्डिंग सबसे ऊपर जाइए वहीं पर आपको देखने को मिल जाएगा मार्केट कैप कंपनी का शेयर प्राइस का भाव roe,roce, share रिटर्न, debt , promoter holding usi ke साथ-साथ pledged percentage .

अगर यह ऑप्शन नहीं है तो नीचे राइट साइड में दिया गया
pledged percentage आप ऐड कर सकती हैं । 

अभी के टाइम पर टीसीएस का शेयर गिरवी रखा है 0.48%। अगर किसी भी कंपनी का शेयर गिरवी लगभग 10 पर्सन से ज्यादा होता है तो उस कंपनी के लिए एक खतरे की घंटी माना जाता है उसी के साथ साथ किसी भी कंपनी में रिटेल इन्वेस्टर का शेयर होल्डिंग ज्यादा होती है तो वह भी एक खतरे की घंटी माना जाता है इसका बाड़ा कारण जब भी कंपनी में कोई हलचल मस्ती है तब सबसे ज्यादा रिटेल इन्वेस्टर भाग जाती है और शेयर प्राइस बहुत तेजी से नीचे गिरता है ।

आइए दोस्तों अब जान लेते हैं-

shareholder ka matlab kya hota hai ?

shareholder ka matlab hota hai हिस्सेदारी और अशंभागी । एनी किसी की किसी कंपनी में कोई शेयर होती है या फिर किसी की किसी में कोई पार्टनरशिप होती है । उसको उसके हिस्सेदार और शेयर होल्डर कहते हैं ।

मान लीजिए किसी कंपनी में आपका पैसा लगा हुआ है और आपने जितना भी पैसा लगा है उस कंपनी में आप उतना पर्सन का मालिक है ।

मुझे उम्मीद है उसको आपको हमारी यह पोस्ट शेयर होल्डिंग क्या होता है इसके बारे में अच्छे से समझ चुके हैं अगर इस पोस्ट से जुड़ी और कोई भी सवाल है तो जरूर नीचे कमेंट कर सकते आज के लिए बस इतना ही । अब देखते रहे हमारा और भी पोस्ट ।

2 Comments

  1. […] शेयर होल्डिंग क्या होता है । share holding ka matlab k… […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x
निफ्टी ने पार किया 18,000 का लेवल, कल कैसी रहेगी निफ्टी की चाल ये 10 शेयर 3-4 हफ्ते में बदल सकते हैं आपकी किस्मत Mindtree का स्टॉक करीब 3% गिरा, क्या थी वजह और अब स्टॉक में रहें या निकल जाएं शुक्रवार 28 अक्टूबर को निफ्टी कैसे चलेगा इन 3 शेयरों में निवेश करने से 2-3 हफ्ते में 20 फीसदी तक की कमाई हो सकती है 7 दिन की तेजी पर ब्रेक, एक्सपर्ट्स से जानिए कैसे आगे बढ़ेगा बाजार Tata Group Stock : टाटा की इस कंपनी में 24% लाभ का सुनहरा मौका दिवाली से पहले FPI ने दिया झटका, शेयर मार्केट से निकाले 6,000 करोड़ रुपये, जानिए वजह जानिए दिवाली से पहले किस कंपनी की लगी लॉटरी