nifty or bank nifty kya hota hai in hindi 2023

हेलो दोस्तों आज के पोस्ट में हम लोग बात करने वाले की ( nifty or bank nifty kya hota hai in hindi 2023 ) निफ्टी और बैंक निफ़्टी क्या होता है इसके बेसिस पर आज की यह पोस्ट बनाया गया है चलिए शुरू करते है आज का टॉपिक ।
nifty or bank nifty mein kya antar hai,
banknifty kya hai,
nifty bank kya hai,

तो दोस्तों मेरा नाम सुजन दास है और मैं बीते 5 सालों से स्टॉक मार्केट के बारे में अच्छा खासा नॉलेज गेन कर चुका हूं उसी के बेसिस पर आज की पोस्ट nifty or bank nifty mein kya antar hai बना रहा हूं ।
Hi friends welcome to my website अगर आप हमारी वेबसाइट में पहले वाला है तो प्लीज हमारे साइड का बिल नोटिफिकेशन ऑन कर दीजिए ताकि भविष्य में कोई भी पोस्ट लिखो तो आपको सबसे पहले मिल जाए ।
इस वेबसाइट में आपको अच्छा खासा स्टॉक मार्केट के नॉलेज मिलेंगे जिसको सीख कर आओ स्टॉक मार्केट में अच्छा ट्रेडेड और इन्वेस्टर बन सकते हैं ।

तो दोस्तों चलिए आज का टॉपिक के बारे में बात कर लेते कि आज का टॉपिक क्या है आज का टॉपिक है दोस्तों —-

nifty or bank nifty kya hota hai in hindi

bank nifty kya hai, bank nifty kya hota hai, nifty or bank nifty kya hai, nifty or bank nifty mein kya antar hai, bank nifty kya hai in hindi, banknifty kya hai, nifty bank kya hai,

इजी टॉपिक है बिल्कुल नए लोगों के लिए बनाया गया है क्योंकि ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं है निफ्टी और बैंक निफ़्टी क्या है । और उन लोगों को लिए भी है जो ज्यादातर लोग सिस्टमैटिक तरीके से इन्वेस्टिंग और ट्रेडिंग नहीं कर पाते हैं तो इन दोनों चीज का भी जानना जरूरी होता है हर एक आदमी के लिए जो इन्वेस्टिंग और ट्रेडिंग करता है स्टॉक मार्केट में । इसके बारे में थोड़ा सा इंफॉर्मेशन रखते हैं यहीं पर ही प्रॉब्लम होता है कि पूरा अच्छा खासा नॉलेज नहीं होता है हर एक आदमी को तो इसी का सलूशन के लिए आज एक पोस्ट बनाया गया है दोस्तों ।

तो दोस्तों सबसे पहले हम लोग आज बात करने की तो आज का टॉपिक निफ़्टी और बैंक निफ्टी क्या है और उसमें क्या-क्या चीज है और आप कैसे आप इसमें पार्टिसिपेट कर सकते हैं । और कैसे है आप इसमें ऐड कर सकते हैं ।
तो दोस्तों पहली चीज हम लोग बात करने वाले हैं निफ्टी क्या है ?

Nifty kya hai ?

तो दोस्तों सबसे पहले यह सवाल आ जाता है कि निफ्टी जो नाम है वह कैसे आया और निफ्टी ही क्यों नाम रखा गया है यह सवाल सबसे पहले हमारी और आपकी मन में भी आया होगा । तो पहले ही बता दो नेशनल और भारत के टॉप 50 कंपनी को दर्शाने के लिए फिफ्टी दोनों को मिलाकर निफ्टी नाम रखा गया है ।

इसमें 50 एक्टिवली स्टॉक्स होता है जो स्टॉक मार्केट में ट्रेड होता है जैसा कि हम लोग पहले ही बताएं कि हमारा भारत का सबसे बड़ा 50 कंपनी को लेकर यह nifty50 बनाया गया है । और ए इंडेक्स सबसे पहले स्थापित हुआ था 21 अप्रैल 1996 में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में इसका नाम दिया गया था । बेसिकली अभी के टाइम पर भारत का लोडिंग स्टॉक एक्सचेंज बना हुआ है और निफ्टी फिफ्टी भारत का सबसे बड़ा इंडेक्स अभी बन चुका है इसी का बेसिस पर हमारा स्टॉक मार्केट कैसा परफॉर्म कर रहा है उसी को देखा जाता है ।

और इसका सबसे बड़ा फैक्टर एक ही दोस्त है 6 महीने के बाद इसको renew किया जाता है । जो 50 कंपनी में से खराब है अच्छा प्रदर्शन नहीं दे रहा है और निफ्टी को नीचे ले जा रहा है उसको निकाल कर उसकी जगह अच्छी ग्रोथ एंड परफॉर्मेंस देने वाली कंपनी उसको याद किया जाता है ।

निफ़्टी फिफ्टी में शामिल होने के लिए कंपनी को बहुत सारा कैटरीना को फुल फिल करना पड़ता है । इसके लिए तो पहला जो कठेरिया वह है उसको उस कंपनी को इंडिया-वेस्ट होना चाहिए उसके बाद एनएससी में लिस्ट डेट होना चाहिए ‌। और कंटिनयसली अच्छा प्रदर्शन करते रहना चाहिए कंपनी का growth मे । इसी के साथ-साथ एक मार्केट के आपकी भी मार्केट कैप यीशु रहता है वह एनएससी के तरफ से बताया जाता है कि इतना मार्केट का होने के बाद ही वह nifty50 में शामिल हो सकती है ।

इसके बाद कई लोग यह भी जानना चाहते होंगे कि हमने Bombay stock exchange भी सुना है sensex भी सुना है यह सब क्या है ।
क्या Nifty sensex एक ही है ।

तो दोस्तों आप को सरल भाषा में समझाने की कोशिश करता हूं जैसे मान लीजिए एनएससी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का इंडेक्स निफ्टी फिफ्टी है उसी तरह से मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स माना जाता है ।

सेंसेक्स में आईटी कंपनी होता है और दीप्ति में 50 कंपनी होती है ऐसा कोई डेफिनेशन नहीं है कि उसके अलावा ही कंपनी हो कोर कंपनी अलग अलग अलग अलग एक भी हो सकती है ऐसा कोई रूल नहीं है ।

Nifty 50 जो है वह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का रिप्रेजेंटेशन करता है । उसी तरह से सेंसेक्स मुंबई स्टॉक एक्सचेंज को रिप्रेजेंटेशन करता है ।

और इसी तरह से हम लोग कोई भी स्टॉक्स को जान पाता है कि ए कंपनी किस एक्सचेंज में लिस्टेड है ।

इसके बाद सबसे बड़ा डॉक्टर होता है कि किस कंपनी को कितना परसेंट weightage देना चाहिए । यह डिसाइड होता है कंपनी के मार्केट कैप के हिसाब से । जिसका मार्केट कैप ज्यादा होता है उसी के हिसाब से weightage दिया जाता है । तो अभी हम लोग बात कर लेते हैं दोस्तों की भारत का टॉप टेन कंपनी weightage के हिसाब से ।

इसके अलावा भी निफ्टी के बहुत सारा इंडेक्स होते हैं जो बहुत कुछ रिप्रेजेंटेशन करता है । Jaise ki Nifty 100 Nifty 500 Nifty medicap Nifty small cap इस तरह से इतने सारे इंडेक्स बनाया गया है तो चलिए इसका भी छोटा सा इंट्रोडक्शन ले लेते हैं ।

भारतीय शेयर बाजार क्या है (FAQ)

Nifty 100 kya hai ?

एनएससी में लिस्टेड भारत के सबसे बड़ा 100 कंपनी को मिलाकर जो इंडेक्स बनाया गया है उसी को Nifty 100 कहा जाता है ।

निफ़्टी 500 क्या है?

Nifty 100 जैसे रिप्रेजेंटेशन करता है भारत के सबसे बड़े 100 कंपनी को उसी तरह से निफ़्टी फिफ्टी रिप्रेजेंटेशन करता है भारत के सबसे बड़े पांच सौ कंपनी को जो एक छोटा सा इंडेक्स माना गया है इसमें बहुत सारा कंपनी आ जाता है भारत में चलने के लिए लेकिन इस इंडेक्स को ज्यादा वैल्यू नहीं दिया जाता है क्योंकि 500 कंपनी बहुत ही ज्यादा होता है इसमें बहुत सारा अच्छा कंपनी भी आ जाता है बहुत खराब कंपनी भी आ जाता है स्लो ग्रोथ कंपनी भी आ जाता है और हाय ग्रुप कंपनी भी आ जाता है इसलिए इसको डेफिनेशन करना बहुत मुश्किल हो जाता है ।

Nifty midcap kya hai ?

तब तो सबसे पहले आपको जानना जरूरी है कि मिडकैप क्या होती है उसी के बाद आपको समझ में आएगा कि nifty midcap क्या है । चलिए छोटा सा इंट्रोडक्शन दे देते हैं । मिड कैप उस कंपनी को बोला जाता है जिसका मार्केट कैप 50000 करोड़ से कम होता है ।
तो niftymidcap का एक इंडेक्स होता है जो दर्शाता है कि आज का मार्केट मिडकैप में कैसा चल रहा है ।

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है कि निफ्टी के बारे में आप लोग सारा कुछ जान गए होंगे ।
चलिए अब जान लेते हैं बैंक निफ्टी क्या होती है ?

bank nifty kya hota hai

जैसे कि आपको नाम से ही पता चल गया होगा की बैंक और निफ्टी । बैंक का इंटेक्स को दर्शाता है भारत के सबसे financial सेक्टर बैंकिंग सेक्टर को मिलाकर जो इंडेक्स बनाया गया है उसी को बैंक निफ्टी कहा जाता है ।
जिस तरह से निफ़्टी में कुछ क्राइटेरिया होता है उसी तरह से बैंक निफ्टी में भी कुछ-कुछ क्राइटेरिया होता है । ए इंडेक्स 2003 में स्थापित हुआ था । पर इसमें क्या सी कंपनी आती है ।

अरे इसमें भी दोस्तों वही कंपनी आती है जिसका फ्रीफ्लो मार्केट क्या होता है जिस बैंक का मार्केट का ज्यादा होता है और अच्छा प्रदर्शन करती है उसी को ही बैंक निफ्टी के अंदर एंट्री किया जाता है ।
इस इंडेक्स में जो भी बैंक रहते हैं उसमें ऐसे नो फ्यूचर एंड ऑप्शन ऑप्शन ट्रेडिंग यह सारे ऑप्शन खुला रहता है तभी वो बैंक निफ्टी में एंटर कर सकता है ।

nifty or bank nifty mein kya antar hai

अगर दोस्त तो आपने ऊपर की पूरा पोस्ट पढ़ा है तो आपको समझ में आ गया होगा कि निफ्टी और बैंक निफ्टी में क्या अंतर है फिर भी आपको मैं शार्ट में बताने की कोशिश करता हूं ।
Nifty का मतलब होता है भारत के सबसे बड़े 50 कंपनी का एक इंडेक्स और बैंक निफ़्टी का मतलब होता है भारत के सबसे बड़े फाइनल सेल मार्केट बैंकिंग सेक्टर के सबसे बड़ा top banking index ।

बैंक निफ्टी में कौन कौन सी कंपनी आती है ?

दोस्तों आज के टाइम की बात करें तो लगभग 12 कंपनी बैंकिंग सेक्टर की आती है जिनमें से प्रमुख बैंक है HDFC Bank, ICICI Bank ,SBI Kotak Mahindra Bank ,Axis Bank , IndusInd Bank of Baroda ,Punjab Bank ,Bandhan Bank etc.

बैंक निफ़्टी ऊपर जाएगा क्या नीचे जाएगा कैसे पता करें ?

बैंक निफ्टी का खुद का कोई वजूद नहीं है दोस्तों आपको यह बात समझना पड़ेगा अगर बैंक निफ्टी को ऊपर जाना है तो बैंक निफ्टी में मौजूद 12 कंपनी को अच्छा नतीजे पेश करना पड़ेगा तभी बैंक निफ़्टी ऊपर जाएगा और दूसरी तरफ हमारा देश की इकोनॉमी यदि बढ़ेगा तो ओबेसली उसके साथ साथ हमारा बैंकिंग सेक्टर भी बहुत ग्रोथ दिखाएगी ।

क्या बैंक निफ्टी में ट्रेडिंग करना फायदा होता है?

अगर दोस्तों ट्रेडिंग करने के बात करो तो ट्रेडिंग में आपको पता ही होगा जितना लाभ का चांसेस होता है उतना ही नुकसान का भी चांसेस होता है । इसलिए कोई भी गारंटी नहीं दे सकता है कि ट्रेडिंग में फायदा ही होगा । लेकिन हां अगर आप निफ्टी में ट्रेडिंग ले रहे हो उसके बदले बैंक निफ्टी में ट्रेडिंग लेने से अच्छा होता है क्योंकि आपको सिर्फ 12 कंपनी कोई मॉनिटर करना पड़ता है 50 कंपनी को नहीं ।

निफ़्टी के अंदर कितना बैंक है ?

दोस्तों निफ्टी के अंदर लगभग अभी तक छह बैंक मौजूद है लेकिन कभी भी इसका हेरा फेरी हो सकता है क्योंकि निफ़्टी हर 6 महीने के अंदर इसका बदलाव किया जाता है जो कंपनी अच्छा परफॉर्म नहीं करता है उसके जगह दूसरा अच्छा कंपनी डाल दिया जाता है ।

निफ्टी क्यों बनाया गया था ?

जैसे कि दोस्तों आपको पता ही होगा हमारा स्टॉक मार्केट में लगभग 4000 कंपनी अभी तक लिस्ट है तो इसको मॉनिटर करने के लिए कि आज का दिन हमारा स्टॉक मार्केट कैसा परफॉर्म किया यह बहुत ही मुश्किल होता है । इसी प्रॉब्लम को सलूशन करने के लिए भारत के सबसे बड़े 50 कंपनी को लेकर एक इंडेक्स बनाया गया है जिसको हम निफ्टी बोलते हैं और इसी को ही देखकर हम लोग पता लगाते हैं कि आज का मार्केट कैसा परफॉर्म किया ।

निफ्टी 50 कब बनाया गया था ?

निफ़्टी फिफ्टी 3 नवंबर 1995 बनाया गया था नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के प्रतिनिधि के रूप में । नेशनल का N और 50 का 50 लेकर नाम दिया गया था निफ़्टी फिफ्टी ।

बैंक निफ्टी कब बनाया गया है ?

बैंक निफ़्टी 13 जून 2005 को बनाया गया था जिसमें लगभग 14 कंपनी लिस्टेड था लेकिन अभी 12 कंपनी लिस्ट है

मुझे उम्मीद है कि दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट nifty or bank nifty kya antar hota hai in hindi 2023 अच्छी लगी है और इस पोस्ट से जुड़ी कोई भी सवाल हो तो जरूर नीचे कॉमन कर सकती है और आपके मन में स्टॉक मार्केट से रिलेटेड कोई भी जिज्ञासा हो तो जरूर नीचे कॉमन कीजिएगा दोस्तों मिलते हैं और एक नए पोस्ट में ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x
RHI Magnesita के शेयर 5 दिन में 26% उछले, एक खबर से रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा स्टॉक थोड़ी सी वृद्धि के साथ बाजार बंद हो गया, जानिए गुरुवार को कैसी रह सकती है चाल दो साल में 200% का रिटर्न देनी वाली इस इंफ्रा कंपनी ने किया Stock-Split का ऐलान, जानें रिकॉर्ड डेट निफ्टी ने पार किया 18,000 का लेवल, कल कैसी रहेगी निफ्टी की चाल ये 10 शेयर 3-4 हफ्ते में बदल सकते हैं आपकी किस्मत Mindtree का स्टॉक करीब 3% गिरा, क्या थी वजह और अब स्टॉक में रहें या निकल जाएं शुक्रवार 28 अक्टूबर को निफ्टी कैसे चलेगा इन 3 शेयरों में निवेश करने से 2-3 हफ्ते में 20 फीसदी तक की कमाई हो सकती है 7 दिन की तेजी पर ब्रेक, एक्सपर्ट्स से जानिए कैसे आगे बढ़ेगा बाजार