Mutual fund kya hai । mutual fund me invest kaise kare in hindi 2022

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं Mutual fund kya hai । mutual fund me invest kaise kare in hindi me इसके बारे में। आप कितना ही टीवी में ऐड देख ले लेकिन आपको डिटेल्स नहीं बता देता है टीवी में कि Mutual fund kya hai kya mutual fund sahi hai या गलत , क्या पता कि म्यूचल फंड कंपनी में लॉस हो गया तो या तो फिर मेरा पैसा लेकर भाग गया तो ।


तो दोस्तो ऐसा क्यों होता है क्योंकि हममें से ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं है । Mutual fund kya hai  और हम में से ज्यादातर लोगों को पता भी नहीं है ।
तो दोस्तों मैं यहां पर आपको बता देता हूं कि बाजार में 300-400 म्यूचल फंड कंपनी है । जिसमें आप अपना पैसा लगा सकता । उनमें से अभी आप सबसे खराब स्कीम चुन लेते हैं तो आपको तब भी अगर आप लंबे समय तक मतलब 5 से 10 साल तक खोल कर लेते हो तभी आपका पैसा नहीं डूबेगा यह मेरा गारंटी है । अगर आप बने रह सकते हैं तो आपका पैसा FD से तो ज्यादा रहेगा ।

kya mutual fund sahi hai, mutual fund me invest kaise kare in hindi, mutual fund kya hota hai hindi mein, mutual fund kaise kam karta hai, mutual fund me kaise invest kare in hindi, mutual fund kya h, mutual fund kya hota hai hindi mein, mutual fund kya hai in hindi, mutual fund kya hai hindi mein,
kya mutual fund sahi hai


लगभग अरज करे 9-10 पर्सन तो रिटर्न आपको मिलेगा ही मिलेगा । इसीलिए दोस्तों देने की कोई बात नहीं है आप आंख बंद करके भी निवेश कर सकते हैं । लॉन्ग टर्म में लॉस होगा ऐसा ना के बराबर होता है । हिस्ट्री में आज तक ऐसा नहीं हुआ है और उम्मीद है क्या आने वाले दिनों में नहीं होने का भी दावा किया जा सकता है ।

अगर दोस्तों आपने म्यूच्यूअल फंड के लिए कोई भी प्लेटफार्म नहीं चुना है तो नीचे दिए गए लिंक पर जाकर आप साइन अप कर सकते हैं उसके बाद आप अपना मनपसंद म्यूचल फंड चुन सकते हैं । इसके लिए मैं सब से सजेस्ट करता हूं Groww app link – https://groww.app.link

अगर आप से ही म्यूचल फंड चुन सकते हैं तो आपका रिटर्न 22 से 25 परसेंट की रिटर्न हो सकती है हर साल । यानी कि आपको हर साल आप एक्सपर्ट कर सकते हो कि आपको 10 से 20% तक रिटर्न इजीली मिल सकता है । अगर आप 20 पर्सन निकल सकते हैं तो आप gold, property, metal इन इन्वेस्टमेंट से बढ़िया रिटर्न कमा सकती है ।


इसलिए दोस्तों इस रिटर्न का बटन सेल के लिए आपको म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करना बहुत जरूरी है आपको रिटर्न्स बैटर मिलेंगे । जब भी आपका डर दूर हो गया होगा बात करते हैं कि मुझे फ्रेंडशिप कंसेप्ट कैसा है ।


mutual funds kaise kaam karta hai


इसके साथ ही दोस्तों मैं आपको बताऊंगा इसमें आप कैसे निवेश कर सकती है । और दोस्तों ऐसे बोनस इस पोस्ट के लास्ट में आपको जो ऐसा फंड भी बताऊंगा जिसमें आप इन्वेस्ट करके के लॉन्ग टर्म में अच्छा प्रॉफिट कमा सकती है  । तो दोस्तों इस पोस्ट को लास्ट तक देखना आपको सारा कांसेप्ट बताऊंगा इस पोस्ट में ।

mutual fund kya hota hai hindi mein जानने के लिए दोस्तों सबसे पहले हम बात कर लेते हैं । तो चलिए दोस्तों आज बात कर लेते हैं mutual funds kaise kaam karta hai

म्यूचल फंड बहुत सारे लोगों को लगता है कि सिर्फ शेयर बाजार में इन्वेस्ट करने के बारे में बोलता है । लेकिन दोस्तों म्यूचल फंड में आप चाहे तो gold में भी निवेश कर सकती है । चाहे तो आप real estate में भी इन्वेस्ट कर सकते हैं । आप चाहे तो म्यूचल फंड की तरह Debt fund me vi इन्वेस्ट कर सकते हैं । या फिर हम लोग जैसा जानते हैं share market या equity में इन्वेस्ट करते हैं । तो दोस्तों इन चारों में से आप किसी में भी mutual fund की तरह इन्वेस्ट कर सकते हैं ।

Read more post – Mutual Fund all post


लेकिन दोस्तों जब भी इन्वेस्टमेंट की बात आते तब भी return और risk बाद भी आता है । रिस्क ज्यादा है तो रिटर्न भी ज्यादा होगा ज्यादा volatile भी हो सकता है । थोड़ा ऊपर नीचे के हो सकते हैं तो इन सारी चीजों की आपको ध्यान रखना पड़ेगा कि आप कितना रिक्स ले सकते हैं । यह सारे चीज बात होती है equity की कंटेस्ट में । यानी कि जो शेयर बाजार में जो म्यूचल फंड इन्वेस्ट करते हैं उसके हिसाब से ।

तो दोस्तों mutual fund kya hai in hindi मैं सही में समझने के लिए सबसे जरूरी है कि शेयर बाजार क्या होता है । शेयर बाजार की बेसिक क्या है उनके बारे में पहले जानिए ।

Read more post – Mutual Fund ke bare me basic information


तो दोस्तों इस पोस्ट में आगे बढ़ने से पहले मैं इसका थोड़ा सा इंट्रोडक्शन देना चाहता हूं । इसके लिए दोस्तों जल्द ही एक पोस्ट आएगी इसके बाद ही । तो दोस्तों शेयर बाजार में इन्वेस्ट करने के लिए 3 तारीख के होते हैं ।

पहला तरीका होता है आप खुद रिचार्ज करें उसके बाद इन्वेस्ट करें । कौन सा तेल अच्छा है कौन सा शहर बुरा है अब खुद डिसाइड करें । इसका एडवांटेज है कि कौन सा शहर अच्छा है इसके लिए आपको खुद किसके ऊपर डिपेंड नहीं होना पढ़ना पड़ता है । इसके लिए आपको किसी को कोई फीस भी नहीं देनी पड़ती है ।


इसका डिश एडवांटेज होता है कि इसके लिए बहुत टाइम टेबल होना जरूरी है इसके रिसर्च में आपको बहुत टाइम देना पड़ेगा । अच्छे से यार ढूंढने में अंडरवैल्यू शेयर ढूंढने में । तो दोस्तों सबको इसका नॉलेज भी नहीं है होता है इसके लिए भी आपको नॉलेज लेने के पड़ता है । इसके लिए आप हमारी यह पोस्ट देख सकती है –


किसी शेयर खरीदने से पहले यह 7 चीजें जरूर चेक करना

दूसरा एडवांटेज होता है कि आप किसी एक्सपर्ट की सलाह ले ले और उसके हिसाब से इन्वेस्ट करें । इसका एडवांटेज यह है कि आपको टाइम नहीं देना है और इसका डिश एडवांटेज यह होता है कि आप को उनके ऊपर डिपेंड होना पड़ता है । और रेगुलर ली आपको इसके लिए ट्रांजैक्शन करना पड़ता है ।

और दोस्तों तीसरा तरीका है म्यूचल फंड का । आप म्यूचल फंड के थ्रू भी शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कर सकते हैं । जिस में भी आपको रेगुलर ट्रक नहीं करना पड़ता है । और इनका फीस भी काफी कम रहता है । और आपको स्टॉक पीकिंग का नॉलेज भी नहीं लेना पड़ता है । इसके लिए सिर्फ आपको अच्छा फंड चुनना पड़ता है ।


तो दोस्तों अब जैसे कि आप जान लिया है कि mutual fund kha basic kam kya hai की खास करके इक्विटी मार्केट में आपको एक्सपोर्ट्स करना । आपकी पैसा को शेयर बाजार में लगाना ।

mutual fund kya hota hai in hindi

चलिए दोस्तों आप जान लेते हैं mutual fund kaise kam karta hai  । देखिए दोस्तों अगर आपको मान लीजिए ₹20000 लगाना है । और आप खुद invest करना चाहती है । या तो फिर कोई advisor के थ्रू आप इन्वेस्ट करना चाहते हैं ।

और ओपको  advisor ने आपको बोल दिया Eicher Motors ,mrf,tcs, P&G, काश यार ले लीजिए । तो दोस्तों इस इनका मान लीजिए एक शेयर का दाम ही ₹20000 से ऊपर है । तो आप को लगाना है ₹20000 है । तो आप कैसे खरीदेंगे इतने सारे कंपनी का सिर्फ ₹20000 में । इसलिए आपने खरीद पाएंगे सिर्फ आपको एक ही शेयर मिलेगा । तो शेयर मार्केट का यही एक प्रॉब्लम है कि डायरेक्ट और इनडायरेक्ट का advisor के थ्रू में जाने के ।

लेकिन दोस्तों mutual fund kaise kam karta hai । म्यूचल फंड कंपनी आपसे ₹500 लेबर और किसी और से 500 लेंगे ऐसे 100 लोगों से पैसा लेकर एक बास्केट तैयार करेगी । उसके पास ऐसे कर के पास ₹50000 आ गए । ऐसे ही उस कंपनी ने 2 शेयर कर लिए page industry या फिर MRF ki के ।

तो दोस्तों या फिर आप लोग अकेले होते और आप ₹500 लगा दे तो आप कभी भी पेज इंडस्ट्रीज शेयर की और एमआरएफ के लाइफ में खरीद नहीं पाओगे । लेकिन दोस्तों आपके जैसा सौ लोग अगर एक साथ पैसा लगाया तो यह पॉसिबल है ।

इसके लिए एक सवाल और हो जाता है कि लोग तो 100है लेकिन शेयर 2 है। तो इसके बदले म्यूचल फंड कंपनी और आपको mutual fund की unit दे देती है ।  तो आप सभी को पांच सो ₹500 का unit दे देगा ।  ताकि आप सब लोग एक साथ मिलकर उन 2 शेयर का coholder बन जाइए ।

तो दोस्तों Mutual Fund kam kaise karta hai कि आपके पास थोड़ा पैसे से आपको ज्यादा कंपनी में निवेश करने में सुविधा देती है । जो आप डायरेक्ट निवेश करेंगे तो कभी इस तरह से पॉसिबल नहीं होता है ।


तो दोस्तों अब यह सवाल आ जाता है कि ए म्युचुअल फंड कंपनी ए कैसे करती है । और लोग एक फंड मैनेजर कंपनी बनाती है ।

जैसे बोले तो AMC बोला जाता है . MATLAB ASSET MANAGEMENT COMPANY । ओ कंपनी एक फंड launch करती है । फिर लोगों से पैसा मांग आती है । कि हम लोग एक मल्टी कैप फंड लॉन्च किया है यानी कि हम लोग हर तरह की कंपनी में इन्वेस्ट करेंगे । हमारे पास ए ए एक्सपर्ट है  । जो आप लोगों का पैसा मैनेज करेगा ।


इनका एक रिकॉर्ड है कितना सालों से काम कर रहे हैं । हिसाब करके आप लोगों को विश्वास दिलाते हैं कि हम लोग mutual Fund को मैनेज सही से करते हैं । और बोलते हैं हम आपको अच्छा रिटर्न लाकर देंगे । आप आइए और अपना पैसा हमारे फंड के अंदर निवेश कीजिए


तो दोस्तों जो लोग भी इंटरेस्ट होंगे और जाकर उस फंड में इन्वेस्ट करेंगे कोई 500 कोई हजार कोई 10000 जिसका जितना औकात हो उतना इन्वेस्ट करेंगे । उस एमसी को फंड मैनेजर को पैसा देंगे । ऐसे करके उस फोन में जितना पैसा इकट्ठा हुआ । उसे कहता है यह Aum । फुल फॉर्म बोले तो asset under management । टोटल पैसा ओपन का मार्केट का बन जाता है ।

चलिए और दूसरा एग्जांपल दे देते हैं मान लीजिए सब के पास से ₹2000 ले लिया और ऐसे करके 50 लोग थे । तो उस फंड मैनेजर के पास ₹100000 हो गया । जो इसके लिए एक एक्सपर्ट होता है वह जाकर शेयर मार्केट में अच्छे शेर को पिक करता है और आपकी पैसा को डिवाइड कर देता है । कौन सा शहर में कितना निवेश करना है वह इसके लिए एक स्ट्रेटजी बाय ना आएगा ।

ऐसे करके ओ एक्सपर्ट ने आपके पैसे को शेयर बाजार में इन्वेस्ट कर देगा और आपको इसके बदले दे दी जाएगी mutual fund ka unit .  जैसे आप जब चाहे भेज सकते और अपना पैसा निकाल सकते हैं । इसके लिए 2 दिन का समय लगता है 2 दिन के बाद आपका पैसा आपके अकाउंट में आ जाएंगे । तो दोस्तों यही basic knowledge mutual fund ka .

What is mutual Fund in hindi ?

मिरचल यानी शेयर । यानी कि अगर मान लीजिए हम लोग हॉस्टल में पढ़ाई करने जाते हैं तो सारे बच्चे एक साथ एक ही घर में रहकर मिल बांट के रहते हैं इसी तरह से आपका पैसा भी सारे लोग मिलकर एक साथ जिसमें लगाए उसी को म्यूचल फंड बोलते हैं ।
तो दोस्तों आज चलिए जान लेते हैं mutual Fund का advantage or disadvantage ।

Mutual fund ka advantage

1) तो दोस्तों Mutual fund ka pahla advantage  है आपका थोड़ा सा पैसे में ज्यादा डायवर्सिफिकेशन । अगर आप दो -चार हाजार रुपया लगाते हैं तो मुश्किल से यह किसी एक या दो से अधिक खरीद सकते लेकिन Mutual fund के थ्रू आप 20-50 शेयर लग जाता है । तो दोस्तों आप का दो हजार चार हजार रुपया भी इतने सारे कंपनी में लग जाता है जो आप डायरेक्ट निवेश से नहीं कर सकती है ।


2) तो दोस्तों सेकंड है जो एक्सपर्ट है जो आपको पैसे को मैनेज करती है । अगर आप खुद डायरेक्ट कोई एक्सपर्ट से बोलोगे तो कि मेरे पास ₹5000 है आप इसको शेयर में इन्वेस्ट करके दीजिए तो खुद मना कर देंगे क्योंकि आपके पास सिर्फ थोड़ा सा ही अमाउंट है ।

आप कहां से मेरा फेस भी दे सकते हैं । क्योंकि म्यूचल फंड में आपके जैसे हजार लोग एक साथ निवेश करते हैं तो थोड़ा-थोड़ा पैसे से उस फंड का बड़ा पैसा बन जाता है और उसी से उसका फिर भी छोटा लग जाता है लेकिन उनके हिसाब से बड़ा हो जाता है । और जो यह सोचता चार्ज लगता है उसे कहा जाता है mutual fund expense ratio


मान लीजिए एग्जांपल के लिए कि आप कोई कंपनी में आप ₹100 लगा रहे हैं तो मुश्किल से मुश्किल आपका ₹99 या फिर 98रुपया ही उस पैसा जाकर शेयर में लगता है ।  एक से ₹2 उस कंपनी रख लेती है । उस एक्सपर्ट के सैलरी देने के लिए । उसे कहते हे एक्सपेंस रेशियो ।


तो दोस्तों यह एक्सपेंस रेशियो जिस म्यूचल फंड का कम होगा उतना ही अच्छा होता है । इससे पता चल जाता है जब का mutual Fund का fund manager है वह कितना फीस कम चार्ज करता है ।


3) तीसरा बेनिफिट यह है कि आप एक बार पैसा लगा दिया और उसी के हिसाब से फंड मैनेजर शेयर विस्ता खरीददार रहेगा आपको कुछ नहीं करना पड़ेगा । तो आप अपना जिंदगी आराम से जी सकते बिना टेंशन किए कि कौन सा शहर ऊपर जा रहा है कौन सा से नीचे जा रहा है एक खुद फंड मैनेजर डिसाइड करेगी ।


4) चौथा दोस्तों आपने sip के बारे में सुना होगा । तो दोस्तों आपने एक बार बैंक में मैंडेटरी सेट कर दीजिए । आपके अकाउंट से हर महीने हजारों पे ₹2000 उस mutual Fund मैं एक पार्टिकुलर तारीख पर इन्वेस्ट होते रहेंगे । अब कोई अकाउंट से पैसा कट रहे और उस फंड में लगते रहे ।

तो दोस्तों हर महीने भी आपको मैनुअली कुछ नहीं करना पड़ता है । और इसका और एक एडवांटेज है दोस्तों की आप जब चाहे अपना एसआईपी बंद कर सकते हैं और जब चाहे बढ़ा सकता है । कम कर सकते हैं । यह सब कुछ कोई भी चार्ज नहीं लगता है ।


और मान लीजिए कभी-कभी यह भी होता है कि आपका अकाउंट में पैसा नहीं है । एसआईपी बाउंस हो जाता है इसमें कई लोग डर जाता है लेकिन दोस्तों इसमें भी डरने का कोई बात नहीं है । ताप का एस आई पी कितना भी बार एसआईपी बाउंस हो जाए आपका यह चेक बाउंस के तारा नहीं है जो आपको नहीं मिलेगा । बैंक का पांच ₹10 चार्ज लगता है वही चार्ज काट के फिर से रिन्यू हो जाता है ।

तो दोस्तों mutual Fund क्या सच में सबसे अच्छा है । इनमें कोई भी खराबी नहीं है । तो दोस्तों ऐसा तो नहीं है दोस्तों दुनिया में किसी चीज में नहीं होता है जो किसी का खड़ा भी नहीं है ‌। तो अब मेरा एक फर्ज है कि आपको इसके बारे में भी बता दो । तो  दोस्तों अभी तक तो म्यूचल फंड का सभी अच्छी अच्छी चीज है आपको बता दिए तो चलिए एक बार डिश एडवांटेज भी देख लेते हैं ।

Mutual fund ka disadvantage


1) पहला ग्रिड Mutual fund कंपनी का । बहुत सारे म्यूचल फंड ऐसे भी है जो उसको सिर्फ इतना ही मतलब है कि आप उसका फंड में ज्यादा से ज्यादा लोगों का पैसा आए । लेकिन दोस्तों यह हर कोई चाहते हैं आप भी चाहते होंगे कि आप जो काम कर रहे हैं उसके बदले ज्यादा से ज्यादा पैसा आए ।

आ जाए तो बहुत ज्यादा मार्केटिंग करेंगे बहुत ज्यादा एजेंट बढ़ाएंगे और बस उनको लोगों से और ज्यादा पैसे चाहिए क्योंकि जितना पैसा किसी म्यूचल फंड में लगेगा उसका एक से दो परसेंट कंपनी कब आएगी तो परफॉर्मेंस अच्छा रहे ।

या बुरा इस सिचुएशन को डायरेक्टली फर्क नहीं पड़ता कितना पैसा अंदर आ रहा है कितने लोग इन्वेस्ट कर रहे हैं उस पर एक या दो परसेंट को कम आएंगे तो कई बार कुछ कंपनियों का सारा फोकस पैसा लाने में होता है और अच्छे से मैनेज करने में नहीं ।


2) यह बहुत बड़ा फ्लोर है म्यूचल फंड के हाथ में नहीं है जो वो कब शेयर बेचे और कब से निकाले यह आपके हाथों में है । अगर आप उन्हें पैसा देंगे तो उस पैसे को ओ इन्वेस्ट करेंगे अगर आपको पैसा की जरूरत पड़ गए आप बोलोगे कि मेरे को पैसे दो तो फंड मैनेजर को आपका शेयर बेच के पैसा देना पड़ता है ।


ऐसे भी कई बार आते हैं दोस्तों जैसे मार्केट में क्रश आता है । आने के सारे शेयर के दाम गिरे हुए होते हैं और शेयर सस्ते में मिल रहा है लेकिन आपको पैसे की जरूरत है तब भी फंड मैनेजर को आपका पैसा लौटाने के लिए उसको सस्ते में भी उनको शेयर बेचकर आपको पैसा देना पड़ता है । जबकि वह चाहता तो है कि उसको और पैसा चाहे ताकि वह सस्ते में खरीद सके लेकिन दोस्तों उसका चाहने और ना जाने में कोई कुछ नहीं होता है ।

3) तीसरा जो सबसे डिसएडवांटेज है ओ है कि म्यूचल फंड का परफॉर्मेंस डिपेंड करती है उस फंड मैनेजर और रिसर्च टीम के ऊपर । ऐसा भी हो मार्केट में होता है क्या हाय एरिक्स होता है हाय रिटर्न भी देता है उस शेयर में फंड मैनेजर चाहे तो निवेश कर सकती है ।

लेकिन वह करती नहीं है क्योंकि उसका जवाब भी उसके लिए प्यारा होता है अगर भविष्य में उस फंड अच्छा परफॉर्म नहीं करती है तो उसको निकाल दिया जाती है उसका डर से वह सिर्फ शेयर और से ब्रिटेन के और जाते हैं । और जब आपने उससे ज्यादा रिटर्न की उम्मीद करते उससे कम आपको रिटर्न मिलता है ।

तो दोस्तों अब बात कर लेते हैं म्यूच्यूअल फंड की सबसे बड़ी use कि । तो दोस्तों म्यूचल फंड को आपको यूज़ करना है आपका gol planning के लिए । अगर आप के 15 साल के बाद बच्चों की शादी देना है । या फिर 10 साल के बाद बच्चों का एजुकेशन के लिए पैसा चाहिए । या फिर 20 साल के बाद आप को रिटायरमेंट लेना है । उसके अकॉर्डिंग आपको म्यूचल फंड सेलेक्ट करना चाहिए ।

तो दोस्तों जैसे ही आपको पहले ही बता हूं कि एक बोनस दो fund जो मुझे पसंद है भी देने वाला हूं तो चलिए उसके बारे में डिस्कस कर लेते हैं ।
तो पहला है कमरिक्स के अंदर – quantum long term fund
और दूसरा है थोड़ा ज्यादा रिक्स की – Parag Parikh long term equity fund

तो दोस्तों अगर आप इन दोनों म्यूचल फंड में इन्वेस्ट करना चाहती है तो आप लोगों के लिए मेरा सजेशन है Groww app जो सबसे अच्छा है और मैं खुद भी यूज़ करता हूं इसलिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप साइन अप करके आप इन दोनों म्यूच्यूअल फंड को खरीद सकते हैं ।
Groww app link – Groww app

आशा करता हूं दोस्तों आपको mutual fund kya hai hindi mai समझ आए होगे अगर नहीं समझे तो इसके लिए आप नीचे कमेंट कर सकती है आपकी प्रॉब्लम सॉल्व की कार दी जाएगी ।

2 thoughts on “Mutual fund kya hai । mutual fund me invest kaise kare in hindi 2022”

Leave a Comment